तू ही यार मेरा

अँखियाँ मेरी पूछ रही हैं दिल को
मेरा चैन नहीं हाँ किथे लड़ाइयाँ वे
तू अखियाँ किथे लड़ाइयाँ वे

कैसे मैं तुझको बताऊँ
राहें तेरी तकती जाऊं
नीदों चुराइयां वे
तू मेरियां निदां चुराइयां वे

धड़कन ये कहती है
दिल तेरे बिन धडके ना
एक तू ही यार मेरा
मुझको क्या दुनिया से लेना

धड़कन ये कहती है
दिल तेरे बिन धडके ना
एक तू ही यार मेरा
मुझको क्या दुनिया से लेना

तुझमें रात मेरी
तुझमें दिन मेरे
लम्हां इक जियूँ ना
मैं तो बिन तेरे

है तेरे साथ सफ़र
जाना है मुझे किधर
के बीत जाए तुझमें ये उम्र

एक पल की भी अब तो
दूरी ना मुझको देना

एक तू ही यार मेरा
मुझको क्या दुनिया से लेना

हिस्सा है तू अब तो मेरे
दिल के जज्बातों का
तू लफ्ज़ है ठहरा हुआ
बस मेरी बातों का

आँखें ये कहती है
तू सामने मेरे रहना
एक तू ही यार मेरा
मुझको क्या दुनिया से लेना

एक तू ही यार मेरा
मुझको क्या दुनियां से लेना

इन्हें भी पढ़ें...  बेबी बेवफा Baby Bewafa
Share via
Copy link