हंस मत पगली प्यार हो जायेगा हंस मत पगली प्यार हो जायेगा-Has mat pagli Pyar ho jayega

जब से मिला हूँ तुझसे
मुस्कुराता रहता हूँ
जो भी मिलता है मुझसे
सुनाता फिरता हूँ

दूर रहना इस माया जाल से
वर्ना तेरा जीना दुश्वार हो जायेगा

[हंस मत पगली प्यार हो जायेगा
हंस मत पगली प्यार हो जायेगा] 

मैं तो ये सोचता था
सोचता था बे-बजह
ख्वाबो की खिड़की थी बंद
अब इश्क होगा भी क्या

तुझसे यूँ थोडा खुल गया हूँ मैं
यूँ तेरी आँखों में घुल गया हूँ मैं

ओ.. जैसे पानी में चन्दन हुआ
दिल अब कुछ भी
करने को तैयार हो जायेगा

[हंस मत पगली प्यार हो जायेगा
हंस मत पगली प्यार हो जायेगा] 

जैसे नदिया मैं आजकल
बलखाती चलती हूँ
तेरी नज़र से दर्पण
देख करके निकलती हूँ
सजी रहूँ तेरे ख्याल से तो
हरदिन जैसे त्योहार हो जायेगा

[हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हंस मत पगले प्यार हो जायेगा] 

तूने खोला मेरा आसमान
इक चाँद रोशन हुआ
खाली सा था मन मेरा
तारों का आंगन हुआ

बातों में तेरी खो गयी यूँ
बदला मौसम या मैं नयी हूँ
कैसे दूर रहूँ तेरे ख्याल से
अब हरपल तेरा इंतजार हो जायेगा

हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हो.. हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हो.. हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हो.. हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हंस मत पगले प्यार हो जायेगा
हंस मत पगले प्यार हो जायेगा

इन्हें भी पढ़ें...  Shambhu Lyrics – Akshay Kumar | Shayari Web
Share via
Copy link